Government takes cognizance

अल्मोड़ा, 09 अक्टूबर 2020— दिल्ली में रेस्टोरेंट के कारीगर की हुई मौत मामले Government takes cognizance में रेस्टोरेंट व्यवसाई की लापरवाही करार देते हुए कांग्रेस नेता और एनएचएम के पूर्व उपाध्यक्ष बिट्टू कर्नाटक ने उत्तराखंड के सीएम से मामले का त्वरित संज्ञान लेने की मांग की है।
बिट्टू कर्नाटक ने मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन प्रेषित कर कहा कि अल्मोडा विधानसभा के विकास खण्ड भैसियाछाना में ग्राम सभा खांकरी निवासी सोबन सिंह पुत्र चन्दनसिंह की दिल्ली लक्ष्मीनगर के विजय चौक में एक रेस्टोंरेंट में कार्य के दौरान करंट लगने से मौत हो गई थी।


उन्होंने बताया कि उक्त व्यवसायी द्वारा सोबन सिंह को करंट (Government takes cognizance)
लगने के बाद तत्काल चिकित्सालय में भर्ती किया जाना चाहिये था किन्तु उनके द्वारा न ही उसका उपचार करवाया गया फलस्वरूप प्राथमिक उपचार न मिलने के कारण सोबन सिंह की मृत्यु हो गयी । उक्त व्यवसायी द्वारा समय पर मृतक के परिजनों को सूचना तक नहीं दी गयी । परिजनों ने दिल्ली पहुंच कर स्वयं पोस्टमार्टम करवाया गया जिसकी रिर्पोट आज दिनांक तक अप्राप्त है ।

Almora- पूनाकोट से नारायणदेबल तक सड़क निर्माण कार्य शुरु ना होने पर रोष जताया


कर्नाटक ने कहा कि उक्त मृतक (Government takes cognizance)
के परिजनों को उक्त व्यवसायी अथवा दिल्ली सरकार द्वारा कोई मुआवजा भी नहीं दिया गया जबकि मृतक अपने परिवार का एक मात्र कमाऊ था जो अपने पूरे परिवार का भरण पोषण कर रहा था। जिसे लाकडाउन अवधि में रैस्टोरैंट स्वामी द्वारा पहले तीन माह के लिये घर भेज दिया गया तदुपरान्त तीन माह के बाद उसे अनेकों फोन कर अपने कार्य पर वापस बुला लिया गया तथा वापसी के ठीक 22 दिन बाद सोबनसिंह के साथ उक्त घटना घटित हो गयी ।

इस घटना के पश्चात व परिजनों के अनुरोध करने पर भी दिल्ली पुलिस द्वारा व्यवसायी के विरूद्व कोई कानूनी कार्यवाही की गयी और न ही उन्हें गिरफ्तार किया गया। कर्नाटक ने मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार से मांग की कि दिल्ली सरकार से अपने स्तर से वार्ता कर मृतक के परिजनों को न्याय दिलाने, रैस्टोरैन्ट व्यवसायी (Government takes cognizance) के विरूद्ध कानूनी कार्यवाही करवाये जाने के साथ ही परिवार को जीविकोपार्जन हेतु पर्याप्त मुआवजा दिलवाये जाने की कृपा करें ।

चूंकि मृतक सोबन सिंह पर अपने परिवार के भरण पोषण का पूर्ण उत्तरदायित्व था (Government takes cognizance) उनकी मृत्यु के बाद उनका परिवार भुखमरी के कगार पर आ गया है। उन्होने मृतक के परिवार के भरण पोषण हेतु मुख्यमंत्री राहत कोष से यथेष्ट धनराशि स्वीकृत करवाने की बात भी कही साथ ही उन्होंने राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी को भी उक्त प्रकरण पर तत्काल कार्यवाही करने की मांग की है।

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/