shishu-mandir

2011 से 2022 तक 16 लाख लोग छोड़ चुके हैं भारत की नागरिकता

उत्तरा न्यूज टीम
1 Min Read
Screenshot-5

दिल्ली। दिल्ली में चल रहे संसद सत्र के दौरान केंद्र सरकार की ओर से विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बताया है कि 2011 से 2022 अर्थात अब तक 16 लाख भारतीयों ने देश की नागरिकता छोड़ी है। राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में यह आंकड़े दिए गए।

new-modern
gyan-vigyan

उन्होंने बताया कि साल 2015 में अपनी नागरिकता छोड़ने वाले भारतीयों की संख्या 1,31,489 थी, जबकि 2016 में 1,41,603 और 2017 में 1,33,049 लोगों ने इसे छोड़ा।