उत्तरा न्यूज
अभी अभी चम्पावत

Champawat- जनपद में विकास कार्यों की रूपरेखा पर हुई चर्चा

चम्पावत। 28 अप्रैल, 2022- शहरी विकास विभाग देहरादून के अधीन गठित संस्था उत्तराखंड शहरी क्षेत्र विकास एजेंसी (UUSDA) द्वारा चंपावत नगर में पेयजल सीवरेज ड्रेनेज, सड़क निर्माण इत्यादि विकास कार्यों की रूपरेखा तैयार किए जाने के उद्देश्य से आज विकास भवन सभागार में जिला स्तरीय विभागों के साथ बैठक की गई। सचिव शहरी विकास आनंद वर्धन के निर्देशों के अनुपालन में कल शहरी विकास विभाग का तकनीकी व सामाजिक विशेषज्ञों का दल चंपावत पहुंचा।

दल में मुख्य विकास अधिकारी राजेन्द्र सिंह रावत के सहयोग से नगर स्तर पर नगर पालिका, जल संस्थान, जल निगम, सिंचाई विभाग इत्यादि विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक कर चंपावत में पेयजल, सीवरेज, ड्रेनेज, सड़क निर्माण इत्यादि विकास कार्य की जाने हेतु विभागों से परियोजना निर्माण हेतु जानकारी प्राप्त की। इस जानकारी व डीपीआर आदि दस्तावेजों की सहायता से चंपावत में बुनियादी सुविधाओं की रूपरेखा तैयार की जाएगी।

दल के अधिकारियों ने बताया कि चंपावत व टनकपुर नगर को मध्यम श्रेणी के नगरों में अवस्थापना विकास परियोजना के अंतर्गत चयनित किया गया है। इस परियोजना में चयनित विभिन्न नगरों हेतु कुल रुपए 2812 करोड़ धनराशि की स्वीकृति भारत सरकार द्वारा (UUSDA) को प्राप्त की है। जिसमें सिर्फ चंपावत पर टनकपुर में भी कार्य किए जाएंगे। दल के अधिकारियों ने बताया कि पेयजल सुविधाओं को 24* 7 किया जाएगा।
पानी के अपव्यय को कम किए जाने के उद्देश्य से वाटर मीटर लगाए जाएंगे। पेयजल आपूर्ति को स्वचालित करने हेतु स्काडा तकनीक का प्रयोग किया जाएगा, निशुल्क कनेक्शन किए जाएंगे। सीवरेज नेटवर्क बिछाया जाएगा व सीवरेज शोधन संयंत्र किया जाएगा व सीवरेज कनेक्शन भी किए जाएंगे।

वर्षा जल की निकासी हेतु नाली व ड्रेनेज प्रणाली तैयार की जाएगी। सड़क निर्माण के साथ- साथ फड़ ठेली व्यापारियों हेतु वेंडिंग जोन तैयार किए जाएंगे। आधुनिक फुटपाथ, पार्क, पार्किंग इत्यादि का निर्माण किया जाएगा। यह दल आगामी कुछ दिनों तक चंपावत में स्थानीय भ्रमण कर परियोजना की रूपरेखा तैयार करेगा। इसके अलावा नगर पालिका क्षेत्र में हाउसहोल्ड सर्वेक्षण कराए जाने हेतु स्थानीय सर्वेक्षणकर्ताओं को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

दल ने बताया कि सर्वेक्षण के दौरान जनता घर-घर जाकर कुछ प्रश्न किए जाएंगे, इस हेतु गूगल फॉर्म तैयार किया गया है। जिसमें जनता से पानी, सीवरेज आदि संबंधी आवश्यक सवाल पूछे जाएंगे। प्राप्त उत्तरके आधार पर आधारभूत आंकड़े प्राप्त किए जाएंगे। इस बैठक में शहरी विकास विभाग दल के सुरेश खंडूरी, काशीनाथ तिवारी, राजेश बहुगुणा व अनिल परिहार सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

Related posts

कोलकाता: नजरूल मंच पर कॉलेजों के समारोह पर लग सकता है प्रतिबंध

Newsdesk Uttranews

Government Job- सरकारी विभागों में ढूंढ रहे हैं रोजगार तो यहां करें एप्लाई

Newsdesk Uttranews

उत्तराखंड से बड़ी खबर, महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व विधायक सरिता ने ज्वाइन की भाजपा

editor1