DDA

Almora- DDA ke khilaf sameeti ne diya dharna

अल्मोड़ा, 24 नवंबर 2020
जिला विकास प्राधिकरण (DDA) को समाप्त करने की मांग को लेकर सर्वदलीय संघर्ष समिति ने समिति के संयोजक नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी के नेतृत्व में गांधी पार्क में धरना दिया। मांग पूरी होने तक संघर्ष जारी रखने का ऐलान किया। इस दौरान सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की गई।

धरने को सम्बोधित करते हुए सर्वदलीय संघर्ष समिति के संयोजक एवम् पालिकाध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी ने कहा कि नवंबर 2017 में प्रदेश सरकार ने तुगलकी फरमान से समूचे पर्वतीय क्षेत्र में जनविरोधी जिला विकास प्राधिकरण (DDA) को लागू कर दिया था। जिसका सर्वदलीय संघर्ष समिति लगातार धरने, प्रदर्शन, जूलूस एवम् ज्ञापन के माध्यम से विरोध कर रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार अपनी हठधर्मिता छोड़ने के लिए तैयार नहीं है। कहा कि इस जनविरोधी प्राधिकरण (DDA) के कारण जनता आज बेहद परेशान है और जनता को अपने भवन—निर्माण में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

उत्तराखंड: बाहरी राज्यों (Outer state) में फंसे उत्तराखंडवासियों की घर वापसी के लिए कार्यवाही शुरू, इस लिंक पर कराएं ​रजिस्ट्रेशन

धरने में मौजूद वक्ताओं ने कहा कि नगरीय क्षेत्र की जनता के साथ आज ग्रामीण क्षेत्र की जनता भी प्राधिकरण (DDA) से त्रस्त है। उन्होंने कहा कि 90 प्रतिशत तक बस चुके अल्मोडा़ शहर में प्राधिकरण लागू होना तर्कसंगत नहीं है तथा हरहाल में इस प्राधिकरण को समाप्त किया जाना चाहिए।

धरने की अध्यक्षता आनन्दी वर्मा एवम् संचालन अख्तर हुसैन ने किया। धरने में समिति के संयोजक प्रकाश चन्द्र जोशी के अलावा कांग्रेस जिला प्रवक्ता राजीव कर्नाटक, कांंग्रेस जिला सचिव दीपांशु पाण्डेय, अख्तर हुसैन, प्रताप सत्याल, राजू गिरी, भारतरत्न पान्डेय, पूरन सिंह मेहरा, महेश आर्या, पूरन तिवारी, आनन्दी वर्मा समेत अन्य कई लोग मौजूद थे।

अपडेट खबरों के लिए हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें