corona
corona

पिथौरागढ़। पुलिस द्वारा गिरफ्तार और कोरोना (corona) संक्रमित हुआ एक व्यक्ति शुक्रवार रात जिला अस्पताल की खिड़की तोड़कर फरार हो गया। इस घटना से स्वास्थ्य और पुलिस कर्मियों में हड़कंप मच गया। काफी ढूंढ खोज के बाद उसे रविवार सुबह गिरफ्तार कर लिया गया।

कोरोना (corona) के फरार होने के बाद पुलिस और स्वास्थ्य कर्मियों में मचा हड़कंप



एसपी कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार गौरव उप्रेती पुत्र दीपचंद उप्रेती गंगोलीहाट थाने में दर्ज एक मुकदमे में आईपीसी की धारा 223, 224, 506 तथा 307 के तहत जिला मुख्यालय में लॉकअप में बंद था। इस बीच कोरोना( संक्रमित होने पर उसे पुलिस अभिरक्षा में उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां से शुक्रवार की रात 1:40 बजे पुलिस और स्वास्थ्य कर्मियों को चकमा देकर गौरव उप्रेती अस्पताल की खिड़की तोड़कर फरार हो गया।
मामले का पता चलने पर पुलिसकर्मियों और स्वास्थ्य गर्मियों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे।


पुलिस अधीक्षक प्रीति प्रियदर्शनी के निर्देश पर पुलिस टीमें गठित की गईं और अभिरक्षा से फरार आरोपी की सरगर्मी से तलाश की जाने लगी। काफी प्रयास के बाद प्रभारी निरीक्षक कोतवाली रमेश तनवार के नेतृत्व में पुलिस ने उसे जगदंबा कॉलोनी, स्पोर्ट्स स्टेडियम के पास पैदल रास्ते से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधीक्षक का कहना है कि कोरोना संक्रमित होने के बावजूद आरोपी जान बूझकर पुलिस अभिरक्षा से भागा और कोरोना (corona) वायरस को फैलाने का काम किया, जिसके चलते आरोपी के खिलाफ दर्ज मुकदमे में आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51-बी और आईपीसी 270 की बढ़ोतरी की गई है।

यह भी पढ़े

बिग ब्रेकिंग— उत्तराखंड के सीएम ​त्रिवेंद्र सिंह रावत को सुप्रीम कोर्ट से राहत, अदालत ने हाईकोर्ट के सीबीआई जांच के आदेश पर लगाई रोक

अच्छी खबर- द्वाराहाट के जालली क्षेत्र में शीघ्र दूर होगी पानी की किल्लत(water scarcity ), 8 राजस्व गांवों के 619 परिवार होंगे लाभान्वित

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें