News-web

Chardham yatra 2024-सिर्फ चार दिन में 1.26 लाख श्रद्धालु, रिकॉर्ड तोड़ रही है बाबा केदार की यात्रा

Published on:

केदारनाथ यात्रा लगातार नए कीर्तिमान स्थापित कर रही है। 10 मई को शुरू हुई यात्रा के महज दस दिनों में ही 2.81 लाख श्रद्धालु बाबा केदार के दर्शन कर चुके हैं। इनमें से 1.26 लाख श्रद्धालु बीते चार दिनों में ही धाम पहुंचे हैं। यात्रा की रफ्तार लगातार बढ़ रही है और हर साल नए रिकॉर्ड बन रहे हैं।

गौरतलब हो, 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्य को अपने ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल किया। धाम के पुनर्निर्माण का कार्य तीन चरणों में किया जा रहा है। पहले चरण में मंदिर परिसर और मंदिर मार्ग का विस्तार किया गया और आदिगुरु शंकराचार्य की समाधिस्थल का पुनर्निर्माण किया गया। दूसरे चरण का काम अभी भी जारी है।

2017 में केदारनाथ में 4.71 लाख दर्शनार्थी पहुंचे थे। 2018 में 9 लाख से अधिक और 2019 में 10 लाख से ज्यादा श्रद्धालु बाबा केदार के दर्शन को आए थे। 2020 और 2021 में कोरोनाकाल के कारण यात्रा पर असर पड़ा। 2022 में 15.63 लाख और 2023 में 19 लाख से अधिक शिव भक्तों ने केदारनाथ में दर्शन किए। अहमदाबाद के दिनेश भाई पटेल का कहना है कि वह 2012 से हर साल केदारनाथ आ रहे हैं और धाम में हर साल नए बदलाव देखने को मिल रहे हैं। रुद्रप्रयाग के कालिका प्रसाद सेमवाल बताते हैं कि वे पिछले 40 सालों से हर साल केदारनाथ के दर्शन करते आ रहे हैं।

बता दें, केदारनाथ धाम में सुविधाओं का विकास होने से भी यात्रा को गति मिली है। केदारनाथ नगर पंचायत के अध्यक्ष वेद प्रकाश सेमवाल और व्यापार संघ के पूर्व अध्यक्ष महेश बगवाड़ी का कहना है कि केदारनाथ यात्रा हर साल नए आयाम स्थापित कर रही है और कारोबार की दृष्टि से रोजगार के अवसर पैदा हो रहे हैं।

केदारनाथ धाम पंच केदार में प्रमुख और भगवान शिव के द्वादश ज्योतिर्लिंगों में एक है। यह धाम हिमालय में स्थित है और इसकी प्राकृतिक सुंदरता और धार्मिक महत्व के लिए जाना जाता है। यह यात्रा न केवल धार्मिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है, बल्कि उत्तराखंड के लिए आर्थिक विकास का भी एक महत्वपूर्ण स्रोत है।