News-web

नहर में डूबी कार मिली 2 साल बाद,दरवाजा खोलते ही निकली हैरान करने वाली, जाने कैसे मिली यह अब

Published on:

हादसा कहीं भी और कभी भी हो सकते हैं। इन हादसों पर किसी का भी जोर नहीं होता है लेकिन कई बार इन हादसो के पीछे बेहद हैरान और दर्दनाक कहानी भी होती है।

ऋषिकेश में 2 साल पहले एक पिता और उनका 3 साल का बेटा चीला शक्ति नहर में कार सहित डूब गए थे। 2 साल तक उस कार की तलाश होती रही लेकिन अब जाकर पुलिस को वह कर मिल गई है। गंगानगर में रहने वाले एक पिता ने जानबूझकर कार को नहर में गिरा दिया था। 2 साल से उनकी तलाश की जा रही थी। पुलिस को हादसे के कुछ दिनों बाद ही बेटे का शव मिल गया था लेकिन 32 वर्षीय शख्स का कुछ पता नहीं चल पाया था। अब जाकर एसडीआरएफ ने नहर से कार को निकाला है लेकिन जब उसका दरवाजा खोला गया तो हर कोई हैरान रह गया।

हादसे के 2 साल तक कार के साथ लापता हुआ शख्स नहीं मिला था। खोजी टीम ने भी हार मान ली थी लेकिन इन दोनों चीला शक्ति नहर की मरम्मत का कार्य चल रहा है। ऐसे में नहर का पानी सूख गया जैसे ही पानी नीचे गया लोगों को एक कर दिखाई दी। यह वही कार थी जो 2 साल पहले गायब हो गई थी और जिसकी तलाश की जा रही थी। पुलिस ने इस कार का दरवाजा खोला तो उन्हें अंदर एक कंकाल मिला। यह उसी लापता शख्स का कंकाल बताया जा रहा है।

ये था मामला

बात अगर इस हादसे की करें तो दो अप्रैल 2022 को अर्चित बंसल अपने तीन साल के बेटे राघव बंसल के साथ अपने घर से बाहर निकला था। इसके बाद उसने चीला नहर में कार गिरा दी थी। हादसे के बाद राघव का शव बरामद कर लिया गया था लेकिन कार और अर्चित का कोई पता नहीं चल पाया था लेकिन अब जाकर दोनों को बरामद कर लिया गया है।