Rakshabandhan

Brother and sister left before Rakshabandhan

टिहरी, 31 जुलाई 2020
रक्षाबंधन (Rakshabandhan)
से पहले दिल को दहला देने वाली घटना सामने आई है. जिसमें भाई—बहन का साथ हमेशा के लिए छूट गया.

ऋषिकेश-गंगोत्री हाईवे (एनएच 94) का पुश्ता मकान में गिरने से भाई—बहन समेत 3 लोगों की मौत हो गई. रेसक्यू टीम ने एक का शव बरामद कर लिया है.

उत्तराखंड में मौसम लगातार कहर बरपा रहा है. कई जिलों से तबाही की डराने वाली तस्वीरें सामने आ रही है. गुरुवार की सुबह टिहरी जिले के एक परिवार के लिए काल बनकर आई.

नरेंद्रनगर ब्लाक के खेड़ा गाड़ गांव में ऋषिकेश-गंगोत्री हाईवे (एनएच 94) का पुश्ता एक दोमंजिला आवासीय मकान के ऊपर गिर गया. जिसमें 2 युवतियां व एक युवक जिंदा दफन हो गया. रक्षाबंधन (Rakshabandhan) त्योहार से पहले ही परिवार में मातम पसर गया.

सूचना पर एसडीआरएफ और पुलिस-प्रशासन की टीमें मौके पर पहुंची और रेस्‍क्‍यू आपरेशन शुरू कर दिया है. एसडीएम युक्ता मिश्रा ने बताया कि एक युवती का शव निकाला गया है, जबकि 2 लोगों की तलाश चल रही है. फिलहाल शव की शिनाख्‍त नहीं हो पाई है.

Tehri garwal 1

घटना शुक्रवार तड़के करीब 4 बजे की बताई जा रही है. खेड़ा गाड़ गांव निवासी धर्म सिंह के दोमंजिला मकान में हाईवे का पुश्ता भरभराकर गिर पड़ा. इस हादसे में धर्म सिंह का पुत्र अंकित (19 वर्ष), पुत्री विनीता (28 वर्ष तथा नीलम (22 वर्ष) पुत्री कमल सिंह निवासी, ग्राम दयूली, आगरा खाल, टिहरी गढ़वाल मलबे में दब गए. जबकि धर्म सिंह को हल्‍की चोट आई है.

मलबे में दबने के बाद लापता चल रहे दो शवों को निकालने के लिए रेसक्यू ​अभियान जारी है. इस दर्दनाक हादसे के बाद परिजनों में कोहराम मचा हुआ है. भाई—बहन समेत 3 लोगों की मौत से गांव में मातम पसरा हुआ है.

पुश्ता गिरने से ग्रामीणों में आक्रोश

स्थानीय ग्रामीणों ने एनएच 94 का पुश्‍ता टूटने एवं मकान पर गिरने से एनएच के अधिकारियों एवं कार्यदाई संस्था के विरुद्ध रोष प्रकट किया है. ग्रामीणों द्वारा जिम्मेदार अधिकारियों को मौके पर बुलाए जाने की मांग की जा रही है.

अपडेट खबरों के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw