सामुदयिक स्वास्थ केंद्र भिकियासैंण (Bhikiyasain) की स्थापना के तीन दशक पूरे हो चुके हैं लेकिन यहां हमेशा संसाधनो व स्पेलिस्ट डाक्टरों का टोटा रहने से मामूली आपरेशन के लिये भी रानीखेत जाना मजबूरी रही है।

भिकियासैंण, 17 फरवरी 2021- सामुदयिक स्वास्थ केंद्र भिकियासैंण (Bhikiyasain) की स्थापना के तीन दशक पूरे हो चुके हैं लेकिन यहां हमेशा संसाधनों व स्पेलिस्ट डाक्टरों का टोटा रहने से मामूली आपरेशन के लिये भी रानीखेत जाना मजबूरी रही है।

यहां पहली बार एक प्रसूता का सीजिरीयन आपरेशन किया गया जो सफल रहा है। उल्लेखनीय है कि प्राथमिक स्वास्थ केंद्र Bhikiyasain का उच्चीकरण तीस बैड के सामुदायिक स्वास्थ केंद्र में तीस वर्ष हो पूर्व हो गया था।

लेकिन अस्पताल में हमेशा स्पेलिस्ट डाक्टरों का आभाव रहा। जिस वजह से रोगीयों को हल्के आपरेशन के लिये भी बाहर का रूख करनना पड़ता था। अस्पताल को शासन के आदेश पर पिछले माह से शिवम सर्वम ग्रुप पीपीपी मोड में संचालित कर रहा है।

ग्रुप ने स्पेलिस्ट डाक्टरों की तैनाती की है जिसमें फिजीशियन, सर्जन आदि शामिल हैं। यहां अब सुविधा उपलब्ध होने की वजह पहली बार आपरेशन थियेटर में सीजिरीयन आपरेशन हुआ है।

Bhikiyasen- बसंत पंचमी (Basant Panchami) पर आयोजित हुए विविध कार्यक्रम

प्रबंधक डॉ पीएस मेहरा ने बताया कि मंगलवार रात को प्रसूता महिला की स्थिति जटील होने की वजह से सामान्य प्रसव नहीं हो सका। जिस वजह से गायोनोलिजिस्ट डॉ नेहा, डॉ मनोज, डॉ नायक ने सफल सीजिरीयन आपरेशन कराकर प्रसव कराया जिसमें जच्चा-बच्चा दोनों की स्थिति सामान्य है।

उत्तरा न्यूज़ के ताजातरीन वीडियो अपडेट पाने को इस लिंक को क्लिक कीजिए

https://youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw