valley bridge

Orders given to wake up district administration, to put display boards in bridges and to deploy security personnel after valley bridge collapsed

क्षतिग्रस्त वैली ब्रिज (valley Bridge) का पुनर्निर्माण शुरू, वैकल्पिक मार्ग भी होगा दुरुस्त

uru

पिथौरागढ़। निर्माणाधीन मुनस्यारी-मिलम मोटर मार्ग में धापा के पास वैली ब्रिज (valley Bridge) क्षतिग्रस्त होने के मामले में जिलाधिकारी डा. विजय कुमार जोगदंडे ने कहा कि इस प्रकार की पुनरावृत्ति न हो, इसके लिए सभी मोटर पुलों में पुल की भार क्षमता आदि के बारे में डिस्प्ले बोर्ड लगाए जाएं। आपदा व वर्षाकाल के मद्देनजर संवेदनशील स्थानों, पुलों में सुरक्षा के मद्देनजर कार्मिक भी तैनात किये जाएं। उन्होंने कहा कि सीमा सड़क संगठन सभी संवेदनशील मार्गों में आपदा के दृष्टिगत अतिरिक्त मैन पावर, वैलीब्रिज व उपकरण भी स्थापित रखे।

Orders given to wake up district administration after gor valey bridge (valley Bridge

collapsed)


बीते सोमवार को धापा के पास सेनारगाड़ में तिब्बत सीमा को जोड़ने वाला वैली ब्रिज (valley Bridge) टूटने के कारण अवरुद्ध आवागमन को सुचारू किए जाने, क्षेत्र में तैनात आईटीबीपी की अग्रिम चौकियों में आवागमन तथा अन्य सामग्री की आपूर्ति, माइग्रेशन वाले गावों में खाद्यान्न की उपलब्धता और वर्षाकाल में आवश्यक तैयारी के मद्देनजर बुधवार को जिला कार्यालय सभागार में हुई बैठक में जिलाधिकारी डॉ जोगदंडे ने यह निर्देश दिये

जिलाधिकारी ने बताया कि क्षतिग्रस्त वैली ब्रिज (valley Bridge) की जांच के लिए उपजिलाधिकारी मुनस्यारी की अध्यक्षता में एक तकनीकी जांच कमेटी गठित की गई है, जिसमें अधिशासी अभियंता लोनिवि डीडीहाट व सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी पिथौरागढ़ को सदस्य बनाया गया है। कमेटी 15 दिन में निरीक्षण रिपोर्ट उपलब्ध कराएगी।


जिलाधिकारी ने क्षतिग्रस्त वैली ब्रिज (valley Bridge) के संबंध में बीआरओ के अधिकारियों से जानकारी ली। आईटीबीपी को रसद आदि सामग्री की आपूर्ति के संबंध में बल से आए अधिकारियों ने बताया कि सीमांत क्षेत्र में सामग्री की आपूर्ति वैकल्पिक पैदल मार्ग से जारी है। फिलहाल किसी प्रकार की समस्या नहीं हो रही है। इस पर जिलाधिकारी ने तहसीलदार मुन्स्यारी और ईई लोनिवि को तत्काल क्षेत्र में टीम भेजकर पैदल मार्ग का निरीक्षण करने और जरूरत पड़ने पर मार्ग की मरम्मत के निर्देश दिए।


बैठक में बीआरओ के अधिकारी ने बताया कि क्षतिग्रस्त वैली ब्रिज (valley Bridge)का पुनर्निर्माण शुरू कर दिया गया है। मशीनें व पुल से संबंधित सामग्री मौके पर पंहुचा दी गई है और क्षतिग्रस्त एबेटमेंट का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है, जो 4 से 5 दिन में पूरा हो जाएगा। प्रयास किया जा रहा है कि पुल 15 दिन में तैयार हो जाये। उन्होंने बताया कि 83 आरसीसी के ऑफिसर कमांडिंग स्वयं मौके पर गए हैं।

स दौरान जिलाधिकारी ने मल्लाजोहार क्षेत्र में खाद्यान्न वितरण की स्थिति की भी समीक्षा की। पूर्ति विभाग के अधिकारी ने बताया कि मल्लाजोहार क्षेत्र के कुल 14 गांवों में जून तक का खाद्यान्न तथा 4 गांवों में अक्टूबर तक का खाद्यान्न वितरण कर लिया गया है। शेष गांवों में 30 जून तक इसे बांट दिया जाएगा। बैठक में उप जिलाधिकारी धारचूला अनिल कुमार शुक्ला, डिप्टी कमांडेंट 14 आईटीबीपी जाजरदेवल मनीष रावत, 83 आरसीसी के कैप्टन के. सेल्वा कुमार, आईटीबीपी के निरीक्षक मोहन सिंह, हेमंत सिंह और पूर्ति विभाग के बलवंत सनवाल उपस्थित थे

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/