News-web

यमुनोत्री धाम में उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब, तड़के 3 बजे से ही गूंज रहे जयकारे, हाईवे पर लगा जाम

Published on:

चारधाम यात्रा के पहले पड़ाव यमुनोत्री धाम में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ पड़ा है। सोमवार को सुहावने मौसम के बीच जानकीचट्टी से यमुनोत्री पैदल मार्ग पर सुबह करीब तीन बजे से ही मां यमुना के जयकारों के साथ श्रद्धालुओं की भारी भीड़ दर्शन के लिए जा रही है।

गौरतलब हो, चारधाम यात्रा शुरू होते ही गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे पर ट्रैफिक जाम की समस्या गंभीर होती जा रही है। रविवार को यात्रा के तीसरे दिन भी यमुनोत्री हाईवे पर रुक-रुक कर जाम लगता रहा। इधर, गंगोत्री हाईवे पर सुक्की के सात मोड़ पर भी वाहनों की लंबी कतार लग गई, जिससे धाम की यात्रा पर आने वाले तीर्थयात्री घंटों जाम में फंसे रहे।

जिले में स्थित गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने के साथ ही धामों के दर्शन व पूजन को उमड़ रही श्रद्धालुओं की भारी भीड़ के कारण गंगोत्री व यमुनोत्री हाईवे पर जाम की स्थिति लगातार बनी हुई है। यमुनोत्री हाईवे पर यात्रा के पहले दिन जहां पालीगाड से जानकीचट्टी तक जाम लगा रहा, वहीं शनिवार को दूसरे दिन हाईवे पर रानाचट्टी, भूस्खलन जोन ओजरी डाबरकोट, पालीगाड के बीच तड़के चार बजे से ही साढ़े चार घंटे तक जाम रहा। दिनभर बड़कोट से राड़ी टॉप तक भी वाहन रेंगते रहे।

बता दें, रविवार को तीसरे दिन दुबाटा, गंगनानी, खरादी, कुथनौर, पालीगाड में मध्य रात्रि से वाहन फंसे रहे। रानाचट्टी, हनुमान चट्टी, फूलचट्टी क्षेत्र में रुक-रुक कर जाम की स्थिति रही। गंगोत्री हाईवे पर सुक्की के सात मोड़ में दोपहर बाद करीब ढाई बजे जाम लगा। इससे तीर्थयात्रियों को खासी परेशानी उठानी पड़ी। बाद में पुलिस ने गंगनानी, सोनगाड़ से गेट सिस्टम से वाहनों की आवाजाही करवाकर पौन घंटे बाद जाम खुलवाया।

हालांकि, यहां हाईवे संकरा होने से जाम की स्थिति लगातार बनी हुई है। प्रशासन द्वारा यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं, लेकिन श्रद्धालुओं की अत्यधिक भीड़ के कारण परेशानियां बनी हुई हैं।