News-web

कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर ठग लिए 28 लाख

पिथौरागढ़। कौन बनेगा करोड़पति कॉन्टेस्ट में लाखों रुपये की लॉटरी लगने का लालच देकर 28 लाख रुपये हड़पने वाले एक और साइबर ठग को पिथौरागढ़ पुलिस ने ऋषिकेश से दबोच लिया है। इस मामले में पहले ही 2 अभियुक्तों को केन्द्रपारा उड़ीसा से गिरफ्तार किया जा चुका है।

जानकारी के अनुसार 4 जनवरी 2023 को राजेन्द्र सिंह कार्की, निवासी बनकोट, गणाई गंगोली, बेरीनाग ने थाना बेरीनाग में एक तहरीर दी। जिसमें कहा गया कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने उन्हें केबीसी में 25 लाख रुपये की लॉटरी लगने के नाम पर उनसे 28 लाख रुपये की ठगी कर ली है। तहरीर के आधार पर अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया, जिसकी विवेचना एसआई हरीश पुरी, चौकी प्रभारी चौकोड़ी कर रहे हैं।

अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए गठित पुलिस टीम ने इस मामले में पूर्व में ही साइबर सेल की मदद से प्रकाश में आये एसके अफरोज अली (26 वर्ष) पुत्र एसके कमर अली, निवासी मिर्जा पटना गुआलसिंह केन्द्रपारा, ठाकुरपटना उड़ीसा को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया, जबकि उसकी पत्नी अजमेरी खानम को सीआरपीसी का नोटिस दिया गया था।

आरोपियों से पूछताछ में प्रकरण में एक अन्य अभियुक्त अल्ताफ अली वारसी (26 वर्ष) पुत्र असगर अली वारसी निवासी चतुरसिला खुन्ता मयूरभंज, केन्द्रपारा उड़ीसा का नाम भी प्रकाश में आया। जो गिरफ्तारी से बचने के लिए फरार चल रहा था। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक लोकेश्वर सिंह ने टीम गठित की।

आखिरकार टीम ने सर्विलांस सेल की मदद से अभियुक्त अल्ताफ अली वारसी को ऋषिकेश, देहरादून से गिरफ्तार करने में कामयाबी पाई। उसे न्यायालय में पेश करने के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है ।

ऐसे देते थे अपराध करने को अंजाम

पिथौरागढ़ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस प्रकरण में साइबर ठग लोगों को व्हाट्सएप पर केबीसी कॉन्टेस्ट में लाखों रुपये की लॉटरी लगने संबंधी मैसेज भेजते थे। इसके बाद लॉटरी के पैंसे निकालने के लिए जीएसटी व इनकम टैक्स लगने की बात कहकर लाखों की ठगी कर ली जाती है।