shishu-mandir

अन्तर्राष्ट्रीय पोषक अनाज वर्ष 2023 के उपलक्ष्य में ग्राम ज्योली में एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित

editor1
3 Min Read
Screenshot-5

अल्मोड़ा। गोविन्द बल्लभ पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण संस्थान कोसी कटारमल, अल्मोड़ा ने अन्तर्राष्ट्रीय पोषक अनाज वर्ष 2023 के उपलक्ष्य में ग्राम ज्योली जिला अल्मोड़ा में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया। कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए ग्राम सभा ज्योली के ग्राम प्रधान देव सिंह भोजक ने संस्थान के सभी वैज्ञानिकों तथा शोधार्थियों का स्वागत किया जिसके पश्चात संस्थान के वैज्ञानिक डा० के०एस० कनवाल द्वारा कार्यक्रम की संक्षिप्त जानकारी दी गई। उन्होनें बताया कि कार्यक्रम का आयोजन संस्थान के निदेशक प्रो० सुनील नौटियाल तथा जैव विविधता संरक्षण एवं प्रबंधन केन्द्र के केन्द्र प्रमुख डॉ0 आई0डी0 भट्ट के दिशा निर्देशन में किया जा रहा है जिसका मुख्य उद्देश्य ग्रामीणों को श्री अन्न मोटे अनाज के महत्वता के प्रति जागरूकता फैलाना एवं कृषि हेतु प्रयत्न शुरू करना है।

new-modern
gyan-vigyan

वहीं वैज्ञानिक डा0 आशीष पाण्डे ने मोटे अनाजों के प्रकार तथा उनमें पाए जाने वाले पोषक तत्वों के बारे में जानकारी दी। उन्होनें बताया मोटे अनाजों में अन्य अनाजों के अपेक्षा अधिक पोषक तत्व पाए जाते हैं। जिस कारण इन्हें सुपरफूड भी कहा गया है तथा बाजार में इनसे निर्मित विभिन्न खाद्य वस्तु उपलब्ध है जो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक है। कार्यशाला को आगे बढ़ाते हुए डा0 सुबोध ऐरी द्वारा औषधीय पादपों के कृषिकरण पद्धतियों बाजार मॉंग क्लस्टर कृषि तथा इनसे उत्पन्न होने वाले अनेक रोजगार के अवसरों के सम्बन्ध में जानकारी दी। साथ ही उन्होनें बताया कि संस्थान द्वारा निरन्तर ही ग्रामीणों को औषधीय पादपों की खेती के लिए प्रोत्साहन तथा तकनीकी ज्ञान दिया जा रहा है।

saraswati-bal-vidya-niketan

बताया गया कि ग्राम ज्योली कुज्याड़ी अल्मोड़ा के 10 प्रगतिशील कृषकों द्वारा यूकॉस्ट देहरादून द्वारा आयोजित कार्यक्रम प्राइड ऑफ उत्तराखण्ड एक्सपो में 9 से 13 फरवरी तक प्रतिभाग किया था। उक्त प्रगतिशील कृषकों द्वारा गोविंद बल्लभ पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण संस्थान द्वारा संचालित इन हाउस परियोजना 04 के तहत बहुउद्देश्य औषधीय पादपों का वृहद कृषिकरण कार्य किया जा रहा है। जिन्हें संस्थान के जैव विविधता संरक्षण एवं प्रबंधन केन्द्र द्वारा पोषण पखवाड़ा 2023 कार्यशाला के तहत पारितोषक देते हुए सम्मानित किया गया जिसमें मुख्यतः देव सिंह भोजक ग्राम प्रधान ज्योली, श्रीमती ममता जोशी ग्राम प्रधान कुज्याड़ी, कु0 किरन रावत, चन्द्रा देवी, हेमा देवी, पन्ना देवी, मोहनी देवी, पान सिंह, ललित कुमार, राजेन्द्र प्रसाद, आदि कृषक थे।