Salute to the mother power of the mountain – women of Sheetlakhet rushed to extinguish the fire forest

शीतलाखेत/अल्मोड़ा, 29 जनवरी 2021- शीतलाखेत के आरक्षित वन क्षेत्र में पिछले दो दिनों से लगी आग(fire forest) पर वन विभाग और महिलाओं के सहयोग से काबू पा लिया गया है।

fire forest
पहाड़ की मातृशक्ति को सलाम- जंगल में लगी आग (fire forest)बुझाने दौड़ पड़ी शीतलाखेत की महिलाएं 4


यहां भी महिलाएं नेतृत्व वाली भूमिका में सामने आई,और वन विभाग तथा स्थानीय लोगों के सहयोग से आग (fire forest)पर काबू पा लिया ।

fire forest
पहाड़ की मातृशक्ति को सलाम- जंगल में लगी आग (fire forest)बुझाने दौड़ पड़ी शीतलाखेत की महिलाएं 5

अल्मोड़ा corona अपडेट, आज भी नहीं मिला कोई केस


यहां आग के बेकाबू होने की सूचना के बाद महिलाओं की टोली जंगल को रवाना हो गई और इनकी पूरी टोली पीने के पानी को साथ लेकर चली । जिसने भी इस टोली को देखा उत्साह के साथ इनके साथ हो लिया ।

पहाड़ की मातृशक्ति को सलाम- जंगल में लगी आग (fire forest)बुझाने दौड़ पड़ी शीतलाखेत की महिलाएं 6


बताते चलें कि दो दिन पूर्व मटीला गांव के निकट से आरंभ हुई आग पर काबू पाने के लिए कल वन विभाग द्वारा प्रयास आरंभ किए गए मगर बार बार फायर लाइन टूटने से जब स्थिति बेकाबू होने लगी तो महिला मंगल दलों से मदद की अपील की गई, ऐसे में महिला मंगल दल मटीला की महिलाओं ने मोर्चा संभाला और देर शाम तक उत्तरी ढाल की आग (fire forest)को बुझाने में सफलता प्राप्त की ।

सुबह दक्षिणी हिस्से में फायर लाइन टूटने से आग फिर भड़क उठी ऐसे में महिला मंगल दल सूरी,पड्यूला और मटीला की महिलाओं ने पुनः मोर्चा संभाला और वन विभाग के सहयोग से वनाग्नि पर नियंत्रण कर लिया। महिलाओं के इस कार्य की पूरे क्षेत्र में सराहना हो रही है ।


आग बुझाने में यहयोग देने वालों में मटीला धूरा से दीपा देवी, हंशी देवी, पुष्पा देवी, गोपुली देवी, पदमा देवी, आशा देवी, इन्द्रा देवी, विमला देवी, मोहिनी देवी, खष्टी देवी, सुनीता देवी, जानकी देवी, सावित्री देवी, मोहन सिंह बिष्ट, चन्दन सिंह भंडारी, बालम सिंह भंडारी, मटीला गांव के नंदी देवी,कमला देवी, पुष्पा देवी, नंदी आर्या, धना देवी, दुर्गा देवी, कंचन बिष्ट, पाना देवी, गीता देवी, पायल, बाला देवी, माया देवी, शिव सिंब परिहार, गजेन्द्र कुमार पाठक, चन्दन सिंह, पड्यूला गांव से गीता देवी, दुर्गा देवी,खीम राम , रमा देवी, पिंकी, वन विभाग के आनंद परिहार, रंजीत सिंह, राजन राम, बिहारी, लक्षम राम, वीरांगना समूह जनस्याड़ी, सूरी गांव से अमित पाठक, भगवती परिहार, राधा देवी, सुनीता कांडपाल, गीता कांडपाल, प्रेमा परिहार, सुनीता परिहार, मंजू परिहार, पुष्पा देवी, तारा देवी, हेमा देवी, कमल परिहार, गीता देवी, कमल परिहार, गीता चिलवाल,भगवती देवी, भगा देवी,भावना, किरन देवी, दीपा देवी, कमला असवाल, दीपा असवाल, राधा परिहार, खिमुली देवी, रेनु देवी, मंजू देवी, आशा गेवी, सुनीता कांडपाल आदि मौजूद थे ।

ताजा अपडेट के लिए हमारे यूट्यूब चैनल के इस लिंक को सब्सक्राइब करें

https://youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw