उत्तरा न्यूज
अभी अभी अल्मोड़ा उत्तराखंड

Almora- रा0इ0का0 हवालबाग में जल स्रोतों के पुनर्जनन व गुणवत्ता संवर्धन पर कार्यशाला आयोजित

खबरें अब पाए whatsapp पर
Join Now

अल्मोड़ा। राजकीय आदर्श इंटर कॉलेज हवालबाग में जल स्रोतों के पुनर्जनन व गुणवत्ता संवर्धन पर दो दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई। कार्यशाला के मुख्य अतिथि प्रसिद्ध पर्यावरणविद प्रोफेसर डॉक्टर जीवन सिंह रावत थे। उन्होंने इस अवसर पर बोलते हुए जल स्रोतों के पुनर्जनन की अवधारणा को विस्तार से बताया और जल स्रोतों के पुनर्जनन के लिए किए जाने वाले उपायों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि किस तरह चाल खाल खंती बनाकर वर्षा से प्राप्त होने वाले जल को भूमिगत किया जा सकता है। प्रोफेसर रावत ने उड़ियारी नॉले के पुनर्जनन हेतु उपाय किए जाने की आवश्यकता बताई तथा समाज के सभी वर्गों को जल संरक्षण के पुनीत कार्य में अपना योगदान देने का आह्वान किया।

कार्यशाला में विशिष्ट अतिथि के तौर पर प्रधान वैज्ञानिक विवेकानंद पर्वतीय कृषि संस्थान , डॉक्टर सुरेश चंद पांडे ने जल की महत्ता पर प्रकाश डाला और विभिन्न धार्मिक ग्रंथों में जल के महत्व का वर्णन किया। उन्होंने विज्ञान और धार्मिक मान्यताओं के बीच सामंजस्य स्थापित करने की बात की और सभी लोगों से आग्रह किया कि वे जल संरक्षण की दिशा में सार्थक पहल करें तथा नौलों व धारों को संरक्षित करने के उपाय बताए। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि राजकीय बालिका इंटर कॉलेज अल्मोड़ा की प्रधानाचार्य सावित्री टम्टा ने जल स्रोतों के पुनर्जनन के लिए इस तरह की कार्यशाला को सार्थक बताया तथा उम्मीद व्यक्त की कि इस कार्यशाला से निकलने वाले निष्कर्षों को यदि समुदाय के लोग अपनाएंगे तो अवश्य ही हमारे जल स्रोत संरक्षित रह सकेंगे।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विद्यालय के प्रधानाचार्य व कार्यक्रम संयोजक डॉ0 डीडी तिवारी ने विकासखंड के विभिन्न विद्यालयों से आए छात्र-छात्राओं से आग्रह किया कि वे जल के महत्व को समझते हुए जल संरक्षण व संवर्धन की दिशा में कारगर उपाय करें। कार्यशाला के समन्वयक व प्रवक्ता डॉ कपिल नयाल ने कार्यशाला की अवधारणा को बताते हुए बताया कि आने वाले समय में पानी की कमी व विशेषकर पीने के पानी की कमी सबसे बड़ी समस्या के रूप में सामने आने वाली है साथ ही उन्होंने बताया कि उड़ियारी नौले के पुनर्जनन के लिए विद्यार्थियों के द्वारा कार्य किया जाएगा व इसमें जन समुदाय की भागीदारी भी सुनिश्चित की जाएगी।

द्वितीय सत्र में विकासखंड के 10 विद्यालयों के विद्यार्थियों के मध्य निबंध प्रतियोगिता, भाषण प्रतियोगिता, पोस्टर प्रतियोगिता व मॉडल प्रतियोगिता जूनियर व सीनियर वर्ग में आयोजित की गई।कार्यशाला में राजेश बिष्ट, डॉक्टर दीप प्रकाश जोशी, डॉक्टर दीपेश टम्टा, डॉ हेम चंद्र तिवारी, डॉ ललित जलाल व प्रियंका , नवनीत कुमार पांडे, संजय कुमार पांडे, टी 0डी0 भट्ट,, प्रदीप सलाल, प्रमोद पांडे, सुनीता बोरा, हिमांती टम्टाव भगवत बगडवाल ने निर्णायक का कार्य किया। इस अवसर पर बी एल यादव, धन सिंह धौनी, कमलेश जोशी,भावना वर्मा, मोनिका जोशी ,सुमन पाठक, नवीन वर्मा व संजय मेहता आदि उपस्थित थे।कार्यक्रम का संचालन कार्यशाला के समन्वयक डॉ0 कपिल नयाल ने किया।

Related posts

कुमांऊ के चार जिलों में इस साल 16 लाख पौधे (plants)लगाएगा वन विभाग

झारखंड में लॉ एंड ऑर्डर पर हाईकोर्ट ने 15 दिनों में दूसरी बार की सख्त टिप्पणी, सरकार से मांगा जवाब

Newsdesk Uttranews

राजस्थान हाईकोर्ट में पहली बार पति-पत्नी होंगे न्यायाधीश

Newsdesk Uttranews