पहाड़ी राज्य उत्तराखंड की आर्थिक विकास के लिए कुमांऊ विश्व विद्यालय के वीसी के नुख्से ने पकड़ा तूल, उपपा ने की वीसी राना को प्रधानमंत्री का सलाहकार बनाने की मांग

उत्तरा न्यूज डेस्क
2 Min Read
IMG 20190908 143036

अल्मोड़ा:- कुमांऊ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. केएस राना द्वारा राज्य के आर्थिक विकास को बढ़ाने के लिए प्रदेश में यूपी के तीन बड़े जिलों को उत्तराखंड में मिलाने के सुझाव दिए जाने के बाद राज्यभर से तीव्र प्रतिक्रिया आ रही है| दरअसल प्रो राना ने प्रधानमंत्री को संबोधित पत्र में कहा था कि यूपी के तीन जिले उत्तराखंड में मिला दिए जांय तो राज्य में पलायन रुकेगा, खेती किसानी का विकास होगा और आर्थिक विकास दर बढ़ेगी| इसके बाद उपपा के केन्द्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी ने कहा कि वीसी राना की योग्यता के हिसाब से कुमांऊ विश्वविद्यालय छोटा पड़ रहा है इसलिए उन्हें राष्ट्रीय पद देते हुए उन्हें प्रधानमंत्री का सलाहकार बना देना चाहिए|
पीसी तिवारी ने कहा कि वीसी राना ने उत्तराखंड में पीलीभीत, सहारनपुर व बिजनौर को शामिल करने की मांग की है|उत्तराखंड राज्य के लिए मरने खपने वाले किसी भी आंदोलनकारी के मन में इतना सुंदर विचार नहीं आया इस लिए ऐसे विद्वान व्यक्ति को राज्य से बाहर देश की सेवा में भेज देना चाहिए|साथ ही उन्होंने कुलपति को पद छोड़ राजनीति में हाथ आजमाने की सलाह देते हुए कहा कि इस बयान के लिए राज्य की आंदोलनकारी शक्तियों की प्रतिक्रियाएं उन्हें सुकून देने वाली नहीं होंगी|

यह पत्र जो प्रधानमंत्री को लिखा गया है

IMG 20190908 144546
Joinsub_watsapp