News-web

उत्तराखंड : यहां रेलवे स्टेशन पर ट्रेन में मिले महिला के कटे हुए हाथ और पैर, जाने क्या है पूरा

Published on:

ऋषिकेश रेलवे स्टेशन में एक ट्रेन में महिला के कटे हुए हाथ और पर मिले हैं जिसके बाद पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है।ऋषिकेश रेलवे स्टेशन पर उज्जैनी एक्सप्रेस की ट्रेन में एक प्लास्टिक के कट्टे में महिला के कटे हुए हाथ पर मिले। उस वक्त महिला का अन्य भाग इंदौर की एक ट्रेन में मिला महिला की हत्या के आरोप में इंदौर रेलवे पुलिस ने आज्ञा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

अभी तक महिला की पहचान नहीं हो पाई है।रेलवे स्टेशन ऋषिकेश में एक ट्रेन की धुलाई के दौरान एक कट्टे में महिला के कटे हुए हाथ और पांव मिले। जीआरपी देहरादून के प्रभारी निरीक्षक त्रिवेंद्र सिंह राणा ने बताया कि स्टेशन में उज्जैनी एक्सप्रेस कल शाम को पहुंची थी। बताया जा रहा है सोमवार को जब ट्रेन की धुलाई की जा रही थी तो कर्मियों को स्लीपर के दो कोचों में टॉयलेट के बगल में एक थैला मिला। जिससे काफी बदबू आ रही थी जिसकी सूचना उन्होंने पुलिस को दी मौके पर पुलिस पहुंची।

तो उन्होंने प्लास्टिक के कट्टे में कटे हुए हाथ पैर देखे हाथों के नाखून पर नेल पॉलिश वह कलाई में चूड़ियां भी थी जिससे स्पष्ट हो रहा था कि यह किसी महिला के अंग है। उन्होंने बताया कि यह ट्रेन मध्य प्रदेश के इंदौर से आगे लक्ष्मीबाई नगर से शुरू हुई है। इसलिए उन्होंने इंदौर के जीआरपी एसएचओ संजय शुक्ला से घटना को लेकर बात की। संजय शुक्ला ने उन्हें बताया कि बीते नौ जून को इंदौर में एक अन्य ट्रेन में सीट के नीचे से महिला का शव मिला है। जिसमें हाथ व पांव कटे हुए हैं। उक्त महिला की उम्र करीब 25 वर्ष बताई जा रही है। इस संबंध में इंदौर रेलवे थाने में अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा भी दर्ज है।

आपको बता दे कि शनिवार को मध्य प्रदेश के इंदौर रेलवे स्टेशन के यार्ड में एक युवती का शब्द मिला सब तीन हिस्सों में था और कमर के नीचे का हिस्सा है और हाथ धड़ से कटे हुए थे । पुलिस ने शव बरामद कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया था।

इस पूरे मामले को लेकर एसएचाओ जीआरपी देहरादून एस राणा ने बताया कि उक्त अंगों की फॉरेंसिक जांच के लिए टीम बुलाई गई थी,अंगों का डीएनए लिया जाएगा। बताया कि अंगों को एम्स मोर्चरी भेज दिया गया है। कहा कि मामले में इंदौर जीआरपीएफ के संपर्क में हैं और पूरा सहयोग किया जा रहा है।