uttarakhand news- 50 हजार की रिश्वत के साथ लेखपाल को विजिलेंस ने किया रंगेहाथ गिरफ्तार

Newsdesk Uttranews
2 Min Read

विजिलेंस टीम ने 50 हजार रूपये की रकम के साथ लेखपाल को रंगेहाथों गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि लेखपाल ने एक व्यक्ति से जमीन के मामले में मुकदमा दर्ज होने से बचाने डेढ़ लाख मांगे और बाद में मामला 50 हजार में तय हो गया,पीड़ित ने इस मामले में विजिलेंस में शिकायत दर्ज कराई थी और आज रिश्वत की 50 हजार रूपये की रकम के साथ लेखपाल को विजिलेंस टीम ने गिरफ्तार कर लिया।


विजिलेंस की एसपी रेनू लोहानी ने बताया कि रूड़की निवासी मोहम्मद युसुफ पुत्र नूर हसन ने इस मामले में विजिलेंस के पास शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत में युसुफ ने कहा था कि उसने वसीयत की जमीन को खरीदा और यह मामला एसडीएम कोर्ट में विचाराधीन है।

शिकायत में कहा था कि सिंधी वाली गली गंगनहर रुड़की के रहने वाले लेखपाल विरेंद्र कुमार ने उसे धमकाते हुए कहा था कि इस मामले में एसडीएम कोर्ट से मुकदमा पुलिस में दर्ज कराने के आदेश हुए हैं, और मुकदमे में बचाने के लिए लेखपाल ने 1.50 लाख रूपये मांगे।


युसुफ की शिकायत पर विजिलेंस की टीम ने मामले की जांच की और जांच में मामला सही निकलने पर एक टीम गठित की। आज यानि गुरूवार 11 मई को टीम ने बहादाराबाद के चकबंदी कार्यालय से लेखपाल ​वीरेंद्र कुमार को 50 हजार रूपये की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर लिया। लेखपाल के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।