बागेश्वर: गरुड़ ब्लॉक के बैजनाथ में हुआ पंचायत प्रतिनिधियों का प्रशिक्षण, SDG पर हुई चर्चा

editor1 1 View
4 Min Read

बागेश्वर, 09 दिसंबर 2022 –

बागेश्वर जिले के गरुड़ ब्लॉक के न्याय पंचायत बैजनाथ के जन मिलन केंद्र मेलाडुंगरी में पंचायती राज निदेशालय उत्तराखंड के तत्वाधान में जन जागरण समाज सेवी संस्था डाकपत्थर के द्वारा त्रिस्तरीय पंचायतों के निर्वाचित प्रतिनिधियों एवं कार्मिकों हेतु सतत विकास लक्ष्यों का स्थायीकरण विषय पर चल रहे दो दिवसीय प्रशिक्षण कराया गया।

कार्यक्रम की शुरुआत ग्राम प्रधान, वार्ड सदस्यों, क्षेत्र पंचायत सदस्यों एवं अन्य लाइन कर्मचारियों की मौजूदगी में सतत विकास के लक्ष्य -2 पर की गई। चर्चा को सतत विकास की सबसे पहली थीम “गरीबी मुक्त और उन्नत आजीविका” से शुरू किया गया तथा क्रमानुसार बढ़ते हुए सतत विकास के लक्ष्यों को समझाते हुए 17 लक्ष्यों केसभी 9 थीम पर विभिन्न प्रकार की एक्टिविटी एवं खेलों के माध्यम से मुख्य प्रशिक्षिका विभु कृष्णा द्वारा समझाए गए।


इस पर किस तरह से एक ग्राम प्रधान अपने गांव को उत्तम स्वास्थ्य व्यवस्था, स्वच्छता, शून्य भूखमरी, उत्तम शिक्षा, एवं खुशहाली पर विभिन्न गतिविधियों तथा सत्य घटनाओं पर आधारित डाक्यूमेंट्री फिल्मों के माध्यम से प्रशिक्षक सुरेंद्र जनौटी ने सभी जन प्रतिनिधियों को जागरूक किया।

उन्होंने सरकारी योजनाओं को क्रियान्वित करने के लिए सभी 9 थीम में सरकारी अधिकारी कर्मचारियों जो कि ग्राम स्तर पर काम कर रहे हैं से अनुरोध किया कि ग्राम पंचायत के पदाधिकारी, प्रधान, वार्ड सदस्य और क्षेत्र पंचायत सदस्यों को इन विभागों से संपर्क कर अपनी ग्राम की ग्राम पंचायत विकास योजना में सम्मिलित करते हुए योजना बनाएं इस अवसर पर विभिन्न विभागों से आए अधिकारियों ने आगनवाड़ी, आशा ने अपनी अपनी बात रखी है ।साथ ही महिला हितेषी गांव की परिकल्पना को साकार करने के लिए महिला निर्वाचित प्रतिनिधियों के कुशल और प्रभावी कामकाज के लिए एक सक्षम वातावरण प्रदान करना साथ ही निर्णय लेने की प्रक्रिया में महिलाओं की प्रभावी भागीदारी सुनिश्चित करना महिला बजट तैयार करना आदि मुद्दों पर विस्तार पूर्वक चर्चा की गई।


इस दौरान ग्राम थानडंगोली की ग्राम प्रधान नीतू आर्या ने बताया कि किस प्रकार से एक महिला प्रधान बनने के बाद ग्राम की अन्य महिलाओं में बदलाव आए है। इसी बीच ग्राम तैलीहाट की ग्राम प्रधान पुष्पा देवी, मेलाडुंगरी की ग्राम प्रधान कौशल्या देवी आदि अन्य ग्राम प्रधानों और वार्ड सदस्यों ने भी सामने आकर अपनी बात रखी और बताया कि उन्होंने किस प्रकार से अपने गांव में महिला सशक्तिकरण से लेकर गांव की विभिन्न परेशानियों का किस तरह से निवारण किया है। प्रशिक्षण को और रोमांचक बनाते हुए प्रशिक्षक अंजलि अधिकारी एवं आदित्य कार्की द्वारा खेल एक्टिविटी से प्रशिक्षण दिया गया।


इस दौरान ग्राम पंचायत विकास अधिकारी पूजा वर्मा मेला डूंगरी की प्रधान कौशल्या देवी ने प्रशिक्षण के तरीके और प्रस्तुतिकरण की तारीफ की और सबका आभार जताया साथ ही वार्ड सदस्यों के सशक्तिकरण, प्रधानों के जागरूक होने और इस प्रकार की बैठक एवं प्रशिक्षण में सभी लाइन डिपार्टमेंट के शामिल होने की बात भी रखी गई।खेल और डॉक्यूमेंटरी फिल्म जन प्रतिनिधियों को सबसे ज्यादा पसंद आई। इस अवसर पर सुरेंद्र जनौटी, अंजली अधिकारी, आदित्य कार्की आदि मौजूद रहे।

Sticky AdSense Example

Sticky AdSense Example

Content goes here. Scroll down to see the sticky ad in action.

More content...