News-web

परिवहन निगम के मृत कर्मचारियों के आश्रितों को लंबे इंतजार के बाद मिली राहत, अब रोडवेज में मिलेगी नौकरी

उत्तराखण्ड सरकार ने उत्तराखण्ड परिवहन निगम के मृतक आश्रितो को एक बड़ी राहत दी है। सरकार ने मृतक आश्रित् कोटे से नौकरी का इंतजार कर रहे 195 लोगों को मृतक आश्रित के तौर पर नियुक्ति का रास्ता खोलते हुए इन पदों पर लगी रोक हटा दी है।


गौरतलब है कि उत्तराखण्ड परिवहन निगम आश्रित कोटे के 195 पदों को 2017 में फ्रीज कर दिया था और यह सभी लोग लंबे समय से से नौकरी का इंतजार कर रहें थे। इसे लेकर कई बार आंदोलन भी हुए।मृतक आश्रितों की इस मसले को लेकर उत्तराखण्ड परिवहन निगम के अधिकारियों से वार्ता भी हुई थी।


बाद में निगम की बोर्ड बैठक में इन मृतक आश्रितों को संविदा में नौकरी देने का निर्णय लिया गया था। लेकिन इसका विरोध हुआ था

जिसके बाद निगम ने शासन को इन पदों को अनफ्रिज करने का प्रस्ताव भेजा था। जिसको शुक्रवार बीते कल 22 दिसंबर को कैबिनेट में बैठक में मंजूरी मिल गई।। जिसमें अब मृतक आश्रितों को नियमित नियुक्ति मिल सकेगी।