Thal kedar field firing range ke liye hua tay

पिथौरागढ़। भारत चीन में सीमा विवाद के बीच युद्ध अभ्यास और खुले क्षेत्र में गोला चलाने व तोप दागने की प्रैक्टिस के लिए तहसील पिथौरागढ़ की थल-केदार फील्ड फायरिंग (firing range) रेंज 1 जून 2020 से 31 मई 2025 तक विनिर्दिष्ट कर दी गई है।

रेंज में एंचोली, सेल-सल्ला से लेकर बड़ाबे तक के दर्जनों गांव शामिल

प्रभारी अधिकारी जिला कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार इसके तहत तहसील पिथौरागढ़ के ग्राम एंचोली, खड़किनी, धारी-धमौड़, गैना, डाल (थरकोट) स्यूनी, बमनथल, भीलोंत, तोली फगाली, इग्यार देवी, सिरमोली, गुरना, गोगना, सेरीकांडा बिनायक, सिरतोली, काडे, बेड़ा, बमराड़ी सिमली, निसनी, हिमतड़, जाजर चिगंरी, पाटी पलचौड़ा, सल्ला, सेल, शिलिगिंया, तोली, लोदगाड़, बड़ाबे, पत्थरखानी, ड्योडार, मर्सोली भाट और सुन्तरापोखरी नामक स्थानों को अभ्यास किये जाने के लिए राज्यपाल उत्तराखंड ने अनुमति प्रदान की है।

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/