उत्तरा न्यूज
अभी अभी खेल पिथौरागढ़

पिथौरागढ़ में राज्य एथलेटिक्स प्रतियोगिता का आगाज

खबरें अब पाए whatsapp पर
Join Now

पहले दिन फर्राटा दौड़ में ऊधम सिंह नगर के राजेंद्र व 400 मीटर में जितेंद्र ने मारी बाजी

पिथौरागढ़। अनुसूचित जनजाति के ओपन बालक वर्ग की दो दिवसीय राज्य स्तरीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता शनिवार को पिथौरागढ़ में शुरू हो गई है। प्रतियोगिता में 100 मीटर फर्राटा दौड़ में ऊधम सिंह नगर के राजेंद्र सिंह प्रथम रहे। 400 मीटर दौड़ में भी इसी जिले के जितेंद्र सिंह ने बाजी मारी।

खेल निदेशालय उत्तराखंड के सौजन्य एवं जिला प्रशासन पिथौरागढ़ के मार्गदर्शन में जिला खेल कार्यालय की ओर से ट्राइबल सब प्लान के अन्तर्गत सुरेन्द्र सिंह वल्दिया स्पोट्र्स स्टेडियम में पहले दिन विभिन्न एथलेटिक्स प्रतियोगिताएं आयोजित हुईं। 100 मीटर दौड़ में देहरादून के विक्रम पंवार द्वितीय व ऊधम सिंह नगर हेमन्त सिंह राणा तृतीय स्थान पर रहे। 400 मीटर दौड़ में प्रथम के साथ ऊधम सिंह नगर के ही गौरव राणा द्वितीय तथा नैनीताल के आयुष जंगपांगी ने तीसरा स्थान प्राप्त किया।

800 मीटर दौड़ में देहरादून के ऋतिक जोशी ने पहला, ऊधम सिंह नगर के जितेंद्र सिंह ने दूसरा और देहरादून के निखिल जोशी ने तीसरा स्थान हासिल किया। लंबी कूद में ऊधम सिंह नगर के गौरव राणा ने प्रथम, देहरादून के विक्रम पंवार ने द्वितीय और चमोली जिले के अमन रावत ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

 

 

प्रतियोगिता के उद्घाटन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पुलिस अधीक्षक आरसी राजगुरु तथा विशिष्ट अतिथि डाॅ. पंकज कुमार शुक्ला थे। इससे पूर्व मुख्य अतिथि ने 100 मीटर दौड़ को हरी झंडी दिखाकर प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। उन्होंने प्रतियोगिता में विभिन्न जनपदों से आए बालकों को उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए शुभकामनाएं दीं। आयुष म्यूजिकल एकेडमी एवं संगीत विद्यालय की बालिकाओं ने स्वागत गीत और कथक नृत्य की प्रस्तुति दी।

इस मौके पर हेमंत महाराज, प्रो. जीत सिंह ज्याला, भास्कर चंद्र भट्ट, प्रकाश जंग थापा, प्रकाश कोतवाल, जनार्दन उप्रेती, जुगल किशोर पांडे, नीरज सौन, सुनीता मेहता रावत सहित अनेक खिलाड़ी व खेलप्रेमी उपस्थित थे। पहले दिन प्रतियोगिता में निर्णायक प्रताप सिंह, दिनेश चंद्र पाटनी, महेंद्र सिंह सिर्खाल, यतीश ओझा, फकीर सार्की, सरोज, लीलावती जोशी व दीपक उप्रेती  मौजूद रहे। जिला क्रीडा अधिकारी संजीव कुमार पौरी ने सभी का आभार व धन्यवाद व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन निर्मल किशोर भट्ट ने किया। इस प्रतियोगिता में उत्तराखंड के अनुसूचित जनजाति बाहुल्य क्षेत्रों से 94 बालक प्रतिभाग कर रहे हैं। प्रतियोगिता का समापन रविवार को पुरस्कार वितरण के साथ किया जायेगा।

Related posts

अच्छी खबर: जागेश्वर धाम में बुरांश (buransh)की लालिमा की बीच आयोजित होगा बुरांश महोत्सव(buransh mahotsaw)

Newsdesk Uttranews

धौलादेवी के इस गांव में दो दिन से बिजली आपूर्ति(Power supply) भंग

Newsdesk Uttranews

उत्तराखंड के नितिन रावत को मिलेगा राष्ट्रीय बाल वीरता पुरस्कार

उत्तरा न्यूज टीम