अब बेटों को भी मिलेगा महालक्ष्मी सुरक्षा कवच योजना का लाभ

उत्तरा न्यूज डेस्क
2 Min Read

उत्तराखंड में अब बेटों के लिए भी महालक्ष्मी सुरक्षा कवच की योजना शुरू होने जा रही हैं। बेटियो की तरह बेटो को भी अब महालक्ष्मी सुरक्षा कवच दिया जाएगा। बेटा हो या बेटी पहले दो बच्चो के जन्म इस योजना का लाभ दिया जाएगा। सीएम धामी की कैबिनेट बैठक में इस प्रस्ताव की मंजूरी मिली है।

प्रदेश में 17 जुलाई 2021 को मुख्यमंत्री महालक्ष्मी सुरक्षा कवच योजना की शुरुआत हुई थी। प्रसव के बाद माता , कन्या शिशु के पोषण , अतिरिक्त देखभाल और लैंगिक आसमानता को दूर करने के लिए इस योजना को शुरू किया गया था, अब सरकार ने बेटियों की तरह बेटो को भी इस योजना का लाभ देने का फैसला किया है। प्रस्ताव में पारित हुआ कि अब बेटियो की तरह ही बेटो को भी महालक्ष्मी कीट का वितरण किया जाएगा।

बता दें कि महालक्ष्मी सुरक्षा कवच योजना की महालक्ष्मी किट में माताओं के लिए 250 ग्राम बादाम गिरी, अखरोट, सूखे खुमानी, 500 ग्राम छुआरा, दो जोड़ी जुराब, स्कार्फ, दो तौलिये, शाल, कंबल, बेडशीट, दो पैकेट सैनेटरी, नैपकिन, 500 ग्राम सरसों का तेल, साबुन, नेलकटर आदि सामग्री दी जाती है

महालक्ष्मी सुरक्षा कवच योजना की महालक्ष्मी किट में बालिकाओं को किट में दो जोड़ी सूती व गर्म कपड़े, टोपी, मौजे, 12 लंगोट, तौलिया, बेबी सोप, रबर शीट, गर्म कंबल, टीकाकरण व पोषाहार कार्ड दिया जाता है। मंत्री महिला सशक्तीकरण एवं बाल विकास रेखा आर्य ने कहा कि जो महालक्ष्मी किट सिर्फ बेटियों के जन्म पर दी जाती थी, उसे अब बेटों के जन्म पर भी दिया जाएगा। कहा कि जनभावनाओं को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है।