News-web

बड़ी खबर: शिक्षा मंत्रालय ने दिया निर्देश, जल्द ही जारी हो सकती है जेईई मेंस, नीट और सीयूसेट परीक्षाओं की तारीख

Published on:

Old 500 or thousand notes worth over Rs 4 crore received from Uttarakhand

कोरोना महामारी की वजह से सभी परीक्षाएं cancel या फिर देरी से हो रही है। ऐसे में पिछले हफ्ते ही CBSE board की ओर से दसवीं और बारहवीं कक्षाओं के दूसरे चरण की बोर्ड परीक्षा की तारीख घोषित होने के बाद से ही छात्रों की निगाह लगातार जेईई मेंस, नीट और सीयूसेट जैसी परीक्षाओं की तारीखों पर टिकी है। ऐसे में आपको बता दें कि शिक्षा मंत्रालय ने National testing agency (एनटीए) को जल्द ही इन सभी परीक्षाओं की तारीखें announce करने के निर्देश दिए हैं। उम्मीद की जा रही है, इस महीने तक इन सभी परीक्षाओं की तारीखें घोषित कर दी जाएंगी। एनटीए से जुड़े वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार इसे लेकर तैयारियां शुरू हो गई हैं।


बोर्ड परीक्षा की तारीखें घोषित होने के बाद वैसे भी अब कोई दुविधा नहीं है। ऐसे में अब जल्द ही तारीखें घोषित कर दी जाएंगी। हालांकि अभी सभी परीक्षाओं का registration नहीं शुरू होगा। परीक्षा की तारीखें नजदीक आने के बाद registration window खोली जाएंगी। इस बीच जो संकेत मिले है, उनमें जेईई मेंस के रजिस्ट्रेशन का program इसी महीने शुरू हो सकता है। यह इसलिए भी है, क्योंकि जेईई मेंस के पहले चरण की परीक्षा मार्च के अंत तक कराने की तैयारी है। सूत्रों की मानें तो इसी महीने सभी चारों चरणों की तारीखें घोषित की जाएंगी। इसके साथ medical में दाखिले से जुड़ी परीक्षा नीट (नेशनल एलिजबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट) की भी तारीखें घोषित कर दी जाएंगी। इससे छात्रों को तैयारी से जुड़ी अपनी योजना बनाने में सुविधा होगी।

एनटीए ने तेज की तैयारी, पहली बार आयोजित होगी सीयूसेट

कोरोना की वजह से देश में बहुत सारी चीजों पर रुकावट आ गई थी पर अब धीरे-धीरे चीजें ठीक होने लगी है। कोरोना संकट से पहले नीट का आयोजन हर साल मई के पहले रविवार को होता रहा है, लेकिन कोरोना संकट के बाद जिस तरह medical कालेजों में शैक्षणिक सत्र लड़खड़ाया है, उनमें यह परीक्षा june या फिर jully में आयोजित कराई जा सकती है। एनटीए ने इसके साथ ही सभी केंद्रीय विश्वविद्यालयों में दाखिले के लिए पहली बार संयुक्त प्रवेश परीक्षा (सीयूसेट) कराने की भी तैयारी की है।

इसकी तारीखें भी इस महीने में घोषित कर दी जाएंगी। फिलहाल एनटीए का सबसे ज्यादा फोकस सीयूसेट को लेकर है।
नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति से जुड़ी यह अहम सिफारिश है, जिसे वह लागू करने जा रही है। अब तक सभी केंद्रीय विश्र्वविद्यालयों में दाखिले के लिए अलग-अलग परीक्षाएं होती थी। मंत्रालय से जुड़े अधिकारियों की मानें तो इससे छात्रों और अभिभावकों की बड़ी राहत मिलेगी। उनका पैसा और समय दोनों बचेगा। ऐसा माना जा रहा है CBSE के दूसरे term 2 की परीक्षा के खत्म होने के बाद ही यह आयोजित होंगी। CBSE ने दूसरे टर्म की परीक्षा 26 अप्रैल से कराने की घोषणा की है।