जल जीवन मिशन के कार्यों में लापरवाही और कमीशन लेने की शिकायतों पर जांच बैठी

उत्तरा न्यूज टीम
2 Min Read

देहरादून। उत्तराखंड में जल जीवन मिशन के कार्यों में लापरवाही और कमीशन लेने की शिकायतों पर बैठा दी गई है। दरअसल कोटद्वार में विभाग के ही एक ठेकेदार ने डिवीजन के कई इंजीनियरों पर कमीशन लेने का आरोप लगाया है। सबूत के तौर पर इस का वीडियो भी पेश किया गया है।

विभाग के प्रबंध निदेशक उदयराज ने मामले की जांच मुख्य अभियंता गढ़वाल सीएस रजवार को सौंप दी है। कोटद्वार डिवीजन में विभाग के एक ठेकेदार ने विभाग के आला अफसरों को भेजी शिकायत में गंभीर आरोप लगाए हैं।

ठेकेदार ने कहा है कि जल जीवन मिशन के फेस वन के कार्य करते समय उन्होंने विभागीय इंजीनियरों को कमीशन दिया था। दूसरे फेस में कमीशन बढ़ा दिया गया। उन्होंने इसका विरोध किया तो उन्हें ही टेंडर नहीं मिल पाया। इस संबंध में एमडी उदयराज ने कहा कि शिकायत को गंभीरता से लिया गया है। इंजीनियरों की भूमिका पर जांच बैठा दी गई है।

रिपोर्ट मिलते ही कारवाई की जाएगी। इससे पूर्व जल जीवन मिशन योजना में सामने आए 26 लाख रुपये के घपले की भी जांच शुरू हो गई है। नलई गांव में कागजों में हो फर्जी कनेक्शन देने के मामले की जांच मुख्य अभियंता गढ़वाल कर रहे हैं। जल जीवन मिशन के कार्यों में गड़बड़ी की शिकायतें लगातार बढ़ रही है। ऐसे में दो डिवीजनों के सभी इंजीनियरों पर कार्रवाई का खतरा पैदा हो गया है। पौड़ी और कोटद्वार डिवीजन के इंजीनियरों पर कार्रवाई की तैयारी है।

adbanner