International Human Rights Day

International Human Rights Day: AIDWA seminar

अल्मोड़ा, 10 दिसंबर 2020
अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस (International Human Rights Day) पर नगर के खोल्टा में अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति (एडवा) की ओर से गोष्ठी का आयोजन किया गया।

वक्ताओं ने कहा कि भाजपा गठबंधन कि जनविरोधी नीतियों का जमकर मुकाबला करना आज की जरूरत है, ताकि देश में संविधान प्रदत्त शासन हो और मानवाधिकार की रक्षा सुनिश्चित हो। जिसके लिए महिला समेत जनता को एकजुट होना होगा।

age-relaxation-for-job-in-uttarakhand – उत्तराखण्ड सरकार ने सरकारी भर्ती के लिये आयु सीमा…

इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार जनता की बुनियादी अधिकार छीन रही है। जनता की आस्था के नाम पर धर्म की राजनीति परोस कर जनता के साथ खिलवाड़ हो रहा है।
वक्ताओं ने कहा कि आज किसान सड़कों पर आंदोलित है, जनता के सभी हित उनकी मांगों से जुड़े है। लेकिन मोदी सरकार किसानों के आंदोलन की अनदेखी कर रही है। (International Human Rights Day)

गोष्ठी में वक्ताओं ने कहा की महिलाओं की स्थिति भी किसानी, खेती, पशुपालन, चूल्हे के इर्द—गिर्द घूमती है और बिगड़ती शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार की स्थिति बड़ता पलायन, महिला अधिकारों को सीधे—सीधे प्रभावित करती है।

… तो अल्मोड़ा में नहीं मिल रहे प्रधान पद के लिए उम्मीदवार (Gram Pradhan candidates), प्रशासन ने आरक्षण की स्थिति बदली

कहा कि सरकार गरीब तबके, किसान, मजदूर, अनुसुचित जाति—जनजाति, अल्पसंख्यक महिलाओं पर तीखे हमले कर रही है और पीड़ितों की आवाज को देशद्रोह का नाम दे रही है। गोष्ठी में विभिन्न समस्याओं को लेकर एक पर्चा भी वितरित किया गया। संचालन पूनम व अध्यक्षता निर्मला तिवारी ने की। (International Human Rights Day)

गोष्ठी में राज्य अध्यक्ष सुनीता पांडे, जिला संयुक्त सचिव पूनम तिवारी, कार्यकारिणी सदस्य व यूनिट अध्यक्ष भावना तिवारी, भावना पांडे, भगवती तिवाड़ी, महिमा तड़ागी, पिंकी, रेखा, आशा, रिद्धिमा आदि ने संबोधित किया।