Join WhatsApp

News-web

डॉक्टरों ने बच्ची को किया मृत घोषित, मौत के 12 घंटे बाद हुई जिंदा ताबूत से चिल्लाने लगी मां

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इलाज के लिए आई एक लड़की को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया, लेकिन जैसे लड़की का अंतिम संस्कार किया जा रहा था ठीक उससे पहले बच्ची जिंदा हो गई।

सोशल मीडिया पर यह बड़ी तेजी वायरल हो रहा है। बताया गया है कि मेक्सिको की निवासी 3 वर्षीय कैमिला रोक्साना पेट में इन्फेक्शन से परेशान थी। जिन्हें उपचार के लिए उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन उसे डॉक्टर्स अच्छा इलाज नहीं दे पाए जिससे वह ठीक भी नहीं हो पाई। बाद में डॉक्टर्स ने देखा कि कैमिला की सांसें रुक गई हैं। ऐसे में उन्होंने उसे मृत घोषित कर दिया था। कैमिला की मौत की खबर सुन उसके मां-बाप की हालत खराब हो गई। वह टेंशन में आ गए। लेकिन मरने के बारह घंटे बाद अचानक चमत्कार हो गया। कैमिला की मां को ऐसा लगा कि ताबूत में बंद उसकी बच्ची उसे पुकार रही है। वो तुरंत ताबूत खोलने लगी, लेकिन लोग रोकने लगे। बाद में काफी प्रयास के बाद ताबूत खोला गया तो बात सच साबित हुई। बच्ची ताबूत में उठकर बैठ गई। ये मामला मेक्सिको के सैन लुइस पोटोसी में 17 अगस्त 2022 का है, लेकिन सोशल मीडिया पर ये कहानी वायरल हो रही है।

अब इस मामले में सवाल यह उठता है कि ताबूत में बैठी बच्ची जब जिंदा थी, तो डॉक्टरों ने उसे मरा हुआ घोषित क्यों कर दिया? इस सवाल के जवाब में चिकित्सकों ने बताया कि बच्ची को पेट के इन्फेक्शन के बाद सालिनास डी हिल्डाल्गो कम्युनिटी हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था। इलाज के दौरान उसके दिल की धड़कन रुक गई थी। सांस भी रुक गई थी। ऐसे में डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया था लेकिन बाद में जब बच्ची जिंदा हुई तो लोगों इसे चमत्कार माना है।