almora

अल्मोड़ा, 30 दिसंबर 2020
अल्मोड़ा (Almora) जिले के रानीखेत में भवन निर्माण के लिए पहाड़ी के कटान के दौरान मलबे में दबने से 2 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि एक मजदूर घायल हो गया। घायल मजदूर का अस्पताल में उपचार चल रहा है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए है।

Almora — बियरशिवा स्कूल के छात्र ऐरन ने बढ़ाया अल्मोड़ा का मान

बूबूधाम मंदिर, रानीखेत के पास भवन निर्माण का कार्य चल रहा है। बीते मंगलवार की देर शाम कुछ मजदूर पहाड़ी के कटान कार्य में लगे हुए थे। इसी दौरान अचानक पहाड़ी से भारी मात्रा में मलबा मजूदरों के उपर गिर पड़ा। जिसमें 3 मजदूर प्रेम चौधरी पुत्र सुदामा चौधरी उम्र 38 वर्ष, वीरान चौधरी उम्र 27 वर्ष, निवासी कुजलई थाना नवतन जिला बेतिया विहार व संतोष पुत्र लुटवाना उम्र 20 वर्ष, निवासी ग्राम मदारपुर, थाना चौखापाड़ी, जिला बेतिया, बिहार मलबे में दब पड़ें।

Almora- वाल्सा गांव में 105 साल बाद लगाई गई बैसी

साथी मजदूरों ने किसी तरह मजदूरों को मलबे से बाहर निकाला। लेकिन तब तक प्रेम चौधरी व वीरान चौधरी की मौत हो गई। वही, घायल संतोष को ​गोविंद सिंह माहरा राजकीय चिकित्सालय पहुंचाया गया। जहां उसका उपचार चल रहा है। घायल की हालत ठीक बताई जा रही है।

Almora— न्यू मॉर्डन पब्लिक स्कूल के छात्र गौरव का इंस्पायर अवार्ड के लिए चयन

इधर सूचना के बाद रानीखेत कोतवाली पुलिस व राजस्व विभाग की टीम मौके से घटनास्थल पहुंची। बताया जा रहा है कि उक्त भवन का निर्माण कार्य खड़ी बाजार, रानीखेत निवासी त्रिभुवन वर्मा पुत्र गिरीश चंद्र वर्मा का चल रहा है।निर्माण कार्य ठेकेदार प्रदीप शाह पुत्र योगेन्द्र शाह निवासी सूखाताल नैनीताल द्वारा करवाया जा रहा था। निर्माण स्थल पर लगभग 20 श्रमिक कार्य कर रहे थे सभी बिहार के रहने वाले हैं।

दोनों मृतकों को पोस्टमार्टम के बाद उनके उनके साथी श्रमिकों से सुपुर्द कर बिहार स्थित उनके पैतृक गांव भेज दिया गया है। फिलहाल परिजनों की ओर से मामले में कोई तहरीर नहीं सौंपी गई है। संयुक्त मजिस्ट्रेट, रानीखेत अपूर्वा पांडे ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/