News-web

उड़ीसा चुनाव होने के बाद BJD नेता वीके पांडियन ने सक्रिय राजनीति से लिया सन्यास

Published on:

भुवनेश्वर: नवीन पटनायक के सहयोगी वीके पांडियन ने रविवार को घोषणा की कि वह सक्रिय राजनीति से हट रहे हैं। ये घोषणा उड़ीसा विधानसभा चुनाव में नवीन पटनायक के हार जाने के बाद बीजेडी ने कही।

एक वीडियो संदेश में पांडियन का कहना है कि मैंने जानबूझकर खुद को सक्रिय राजनीति से अलग कर लिया है। अगर मैं इस यात्रा के दौरान किसी को ठेस पहुंचाई हो तो मैं माफी मांगता हूं अगर मेरे खिलाफ अभियान की कहानी ने बीजेडी की हर में योगदान दिया है तो मुझे खेद है।

बीजू जनता दल के नेता 5T पहल के अध्यक्ष पांडियन ने अपनी पृष्ठभूमि पर विचार करते हुए कहा, “मैं एक साधारण परिवार और एक छोटे से गांव से आता हूं। मेरा बचपन का सपना आईएएस में शामिल होकर लोगों की सेवा करना था, भगवान जगन्नाथ की कृपा से यह सपना साकार हुआ। केंद्रपाड़ा से अपने परिवार की वजह से, मैं ओडिशा आया, जहां मुझे अपार प्यार और सम्मान मिला है। मैंने ओडिशा के लोगों के लिए बहुत मेहनत की है।”

पांडियन का फैसला बीजेडी की हालिया चुनावी हार के बाद ओडिशा के राजनीतिक परिदृश्य में एक महत्वपूर्ण बदलाव को दर्शाता है।