मयंक मैनाली, रामनगर की रिपोर्ट।

पढने की ललक हो तो उम्र कोई मायने रखती कुछ इसी तर्ज पर टैक्स बार एसोसिएशन रामनगर के अध्यक्ष एडवोकेट पूरन चंद पांडे ने पत्रकारिता में स्नातक कर 13 वीं डिग्री अपने नाम की है। अपनी हालिया उपलब्धि उन्होंने उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय से प्राप्त की है। अपनी तरह का यह उत्तराखंड में अनोखा रिकार्ड है। पूरन चंद्र पांडे ने 1998 में बीए करने के बाद डिग्रियों से प्राप्त करने का जो सिलसिला शुरू किया वह अनवरत जारी है 2000 में अर्थशास्त्र ,2002 में समाजशास्त्र ,2005 में एलएलबी,2007 में एल एल एम, 2008 में मानवाधिकार ,2010 में राजनीति विज्ञान , 2012 में शिक्षा शास्त्र,2013 में लोक प्रशासन,2014 में इतिहास,2015 में हिंदी,2017 में योगा के बाद 2019 में पत्रकारिता में स्नातक पूर्ण किया है। इसके अलावा विभिन्न समाचारपत्रों में पांडे का नाम सर्वाधिक पत्र संपादक के नाम लिखने पर गिनीज विश्व रिकार्ड में दर्ज है । इसके साथ ही लिम्का बुक रिकॉर्ड में भी उनका नाम दर्ज है। रामनगर के साथ विश्व पटल पर उनका नाम आना गर्व की बात है ,ज्ञान का समुद्र बहुत विशाल होता है पूरन चंद पांडे कहते हैं कि पढ़ने की कोई उम्र नहीं होती और ज्ञान की कोई सीमा नहीं होती इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर क्वालिटी कंट्रोल में उन्होंने डिप्लोमा भी किया है डिग्रियां बी प्लस सी डी व प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण की है अब उनका लक्ष्य मनोविज्ञान मैं परास्नातक करने का रखा है।