jal jeevan mishan
jal jeevan mishan

jal jeevan mishan: If any house is left with water connection, action will be taken against the officer concerned: DM

पिथौरागढ़ सहयोगी, 21 नवंबर 2020
जल जीवन मिशन (jal jeevan mishan) की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने विगत 15 दिनों में लक्ष्य के सापेक्ष कम प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्यदायी संस्था पेयजल निगम, जल संस्थान व सिंचाई विभाग के अधिकारियों को प्रत्येक दिन का लक्ष्य निर्धारित कर अभियान की तरह कार्य करते हुए हर घर को जल संयोजन से जोड़ने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदंडे (DM Dr Vijay Kumar Jogande) ने कहा कि जिले में 26 जनवरी 2021 तक जिले के प्रत्येक घर तक नल से पानी का संयोजन दिए जाने का लक्ष्य निर्धारित है, जिसमें हर घर के साथ ही प्रत्येक विद्यालय व सरकारी भवन को संयोजन देना है।

शनिवार को जिला कार्यालय सभागार में जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदंडे (DM Dr Vijay Kumar Jogande) की अध्यक्षता में जिला जल एवं स्वच्छता मिशन (jal jeevan mishan) की बैठक हुई। बैठक में समीक्षा के दौरान कुल लक्ष्य 81 हजार 531 परिवार के सापेक्ष वर्तमान तक 6608 परिवारों को ही जल संयोजन उपलब्ध कराए जाने पर जिलाधिकारी ने कहा कि शत—प्रतिशत डीपीआर तैयार कर अल्पकालीन निविदा आमंत्रित कर कार्यादेश जारी करें। उन्होंने हर घर को संयोजन देने के निर्देश पेयजल निगम, जल संस्थान व लघु सिंचाई विभाग के अधिकारियों को दिए।

डीएम ने कहा कि सरकार की इस महत्वपूर्ण योजना (jal jeevan mishan) का लाभ प्रत्येक व्यक्ति व घर तक पंहुचे, इसकी जिम्मेदारी संबंधित विभाग की है। इस अभियान में अगर एक भी घर जल संयोजन से छूटता है तो संबंधित अधिकारी की जिम्मेदारी सुनिश्चित करते हुए कार्यवाही की जाएगी।

बैठक में बताया गया कि जिले के 1553 राजस्व गांवों में से 1227 गांवों की डीपीआर तैयार हो गई है, जिसमें से 664 में निविदा आमंत्रित कर कार्य प्रगति पर है।

इस बैठक में डीडीओ एवं परियोजना प्रबंधक स्वजल गोपाल गिरी, विधायक प्रतिनिधि केएस वल्दिया, मुख्य शिक्षा अधिकारी अशोक कुमार जुकरिया, अधिशासी अभियंता पेयजल निगम पिथौरागढ़ आरएस धर्मशक्तु, डीडीहाट बीके पाल, अधिशासी अभियंता जल संस्थान पिथौरागढ़ अशोक कुमार, डीडीहाट अवधेश कुमार, ईई लघु सिंचाई अभिषेक खोलिया आदि अधिकारी मौजूद थे।