Lakhiram

देहरादून, 13 नवंबर 2020
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने पूर्व भाजपा विधायक व मंत्री रहे लाखी राम जोशी के ख़िलाफ़ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए उन्हें पार्टी से निलम्बित कर दिया है।
साथ ही उन्‍हें कारण बताओ नोटिस भी भेजा गया है।

पूर्व मंत्री लाखीराम जोशी पर यह एक्सन सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे उस पत्र का संज्ञान लेते हुवे लिया गया है जिसमे जोशी ने सूबे के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए है और प्रधानमंत्री से नेतृत्व परिवर्तन की मांग की है।

टिहरी के पूर्व विधायक लाखीराम जोशी (lakhiram) केे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र ने सियासी हलचल मचा दी है।

भाजपा के प्रदेश उपाध्‍यक्ष डॉ. देवेंद्र भसीन ने बताया कि पूर्व मंत्री जोशी को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुवे 7 दिन के भीतर जवाब मांगा गया है। उत्तर संतोषजनक न पाए जाने पर उन्‍हें पार्टी से बर्खास्‍त भी किया जा सकता है।

संगठन की इस कार्रवाई के बाद पूर्व मंत्री लखीराम जोशी ने कहा कि इस तरह किसी का निष्कासन नहीं किया जा सकता। व्यवस्था के अनुसार पहले नोटिस देना पड़ता है। उसके बाद ही निष्कासन होता है। मैंने सत्य बात को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा था।