corona samples
corona samples

Corona sample investigation slowed in Uttarakhand, 17 thousand samples pending

देहरादून, 21 नवंबर 2020
उत्तराखंड में एक बार फिर कोरोना की रफ्तार बढ़ती नजर आ रही है। राज्य में पिछले दो दिन में कोरोना के एक हजार से अधिक मामले सामने आए है। प्रतिदिन 500 से अधिक कोरोना मरीज डिटेक्ट हुए है। वही, दूसरी ओर प्रदेश में जांच के लिए भेजे गए 17 हजार से अधिक कोरोना सैंपलों (Corona sample) की रिपोर्ट आना बाकी है।

त्योहारी सीजन के दौरान बाजारों में भीड़भाड़ और सर्दी बढ़ने के साथ ही कोरोना संक्रमण भी बढ़ रहा है, लेकिन सैंपल (Corona sample) जांच की रफ्तार धीमी है।
सरकारी आंकड़ों पर नजर दौड़ाई जाए तो प्रदेश में शनिवार यानि 21 नवंबर तक कोरोना के 70790 केस सामने आ चुके है। कोरोना से अब तक राज्य में 1146 लोगों की मौत हो चुकी है।

चिंताजनक यह है कि प्रदेश में जांच के लिए भेजे गए 17595 सैंपलों (Corona sample) की रिपोर्ट लंबित हैं। जिसमें हरिद्वार, देहरादून, ऊधमसिंह नगर व नैनीताल जिले में सबसे ज्यादा सैंपलों की जांच प्रतीक्षा में है।

प्रदेश में कोरोना का पहला मामला देहरादून में 15 मार्च को मिला था। तब से 20 नवंबर तक 12.24 लाख से अधिक लोगों की जांच की गई।
सरकार का कहना है कि वह कोरोना संक्रमण रोकने के लिए सैंपलिंग बढ़ाने पर जोर दे रही है। इसके लिए सरकार ने मैदानी क्षेत्रों में 24 घंटे और पर्वतीय क्षेत्रों में 48 घंटे के भीतर सैंपल जांच रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। वर्तमान में कोविड-19 जांच के लिए राज्य में 10 सरकारी व निजी लैब हैं।

सचिव स्वास्थ्य अमित सिंह नेगी का कहना है कि प्रदेश में प्रतिदिन 10 से 12 हजार सैंपलों की जांच की जा रही है। लंबित सैंपलों (Corona sample) की संख्या को कम करने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। जिलों में सैंपल कलेक्शन बढ़ा है। सरकार का प्रयास है कि कोरोना के बेसिक लक्षण वालों की सैंपल जांच कराई जाए।

किस जिले में कितनी रिपोर्ट लंबित
अल्मोड़ा 395, बागेश्वर 248, चमोली 733, चंपावत 824, देहरादून 2840, हरिद्वार 4141, नैनीताल 1958, पौड़ी गढ़वाल 1228, पिथौरागढ़ 684, रुद्रप्रयाग 149, टिहरी गढ़वाल 450, उधमसिंह नगर, 3197 तथा उत्तरकाशी की 748 कोरोना सैंपलों (Corona sample)
की रिपोर्ट लंबित है।