SSJ university

अल्मोड़ा (Almora), 03 मई 2021- सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के मनोविज्ञान विभाग में बीते शनिवार को कोरोना महामारी में मनोवैज्ञानिक सलाह प्रदान करने हेतु ‘मनोवैज्ञानिक उपचार श्रृंखला-प्रथम पहल’ का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम में आगामी 15 दिनों तक कोविड-19 के दौर में जनमानस के सामने आ रही मनोवैज्ञानिक चुनौतियां का सामना करने के लिए मनो विशेषज्ञों द्वारा सलाह और निर्देशन दिया जाएगा।

‘डिपार्टमेंट ऑफ साइकोलॉजी एसएसजेयू अल्मोड़ा’ नाम के फेसबुक पेज पर हो रहे इस अभियान का शुभारंभ करते हुए कुलपति प्रो. एनएस भंडारी ने कहा कि यह मुहिम समाज के लिए सकारात्मक कार्य करने की सराहनीय पहल है।

कार्यक्रम की मुख्य आयोजक प्रो. मधुलता नयाल विभागाध्यक्ष, मनोविज्ञान विभाग ने इस कार्यक्रम के महत्व पर प्रकाश डाला। सेवानिवृत्त प्रो. आराधना शुक्ला ने कहा कि निश्चित ही यह कार्यक्रम समाज के हर आयु वर्ग के व्यक्ति को लाभान्वित करेगा। साथ ही प्रोफेसर एम. गुफरान ने कार्यक्रम की आवश्यकता पर विचार किया।

प्रो. सीपी खोखर विभागाध्यक्ष गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय हरिद्वार ने भी इस कार्यक्रम से जुड़कर लाभान्वित होने की बात कही। गेस्ट फैकल्टी विनीता पंत और शोधार्थी आकांक्षा जोशी ने भी अपने विचार रखें।

कार्यक्रम का संचालन शोध छात्रा गीतम भट्ट द्वारा किया गया तथा सभी मनोविशेषज्ञों ने इस फेसबुक पेज पर अपनी शंकाओं और समस्याओं के समाधान हेतु सभी से जुड़ने का आग्रह किया।