Breaking

रंगदारी के मामले में पिता को पहले किया गया था गिरफ्तार

पिथौरागढ़। 20 लाख की रंगदारी और गाली गलौज के मामले में पुलिस ने एक वांछित आरोपी को गिरफ्तार किया है। विगत फरवरी में एक व्यक्ति ने नगर कोतवाली में तहरीर देकर कुछ लोगों पर गाली गलौज कर 20 लाख की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया था। मामले में पुलिस ने धारा 386, 504 और 506 के तहत मुकदमा दर्ज किया।


एसपी प्रीति प्रियदर्शनी ने मामले को गंभीरता से संज्ञान लिया। जिसके बाद डीएसपी आरएस रौतेला के पर्यवेक्षण में जांच में पुलिस टीम ने पाया कि आरोपी द्वारा ब्याज पर रुपए दिए जाते हैं। मुकदमे में धारा 22/23 यूपी रेगुलेशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट 1976 का अपराध पाए जाने पर 22/23 यूपी रेगुलेशन आफ मनी लांड्रिंग एक्ट की धारा जोड़ दी गई।

इस मामले में नामजद आस्तिक सालूजा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में वह सह अभियुक्त है। ज​बकि उसके पिता को पूर्व में पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।बुधवार को प्रभारी कोतवाल रमेश तनवार के निर्देशन में बुधवार को मामले में सह आरोपी आस्तिक सलूजा उम्र 30 वर्ष पुत्र मनोज सलूजा निवासी बिण, पिथौरागढ़ को गिरफ्तार कर लिया।आस्तिक सलूजा को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया।


कृपया हमारे youtube
चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/